Facebook Blogger Youtube

राहू केतु

KAMAL FUNDA 27th Mar 2017

जानिये राहु और केतु आपकी कुंडली मैं क्या दर्शाते हैं 

===================================

अपने चार्ट में राहु और केतु के बीच एक रेखा खींचिये । अब निम्न बातों को ध्यान से देखिये : 

 

१) अगर मंगल ग्रह इस नोडल एक्सिस के दूसरी तरफ और एक तरफ शुक्र है, तो जातक का विवाहित जीवन सामंजस्यपूर्ण नहीं होगा। अगर वह एक ही लाइन पर है, तो सामंजस्यपूर्ण रहेगा । 

२) अगर  शनि और बृहस्पति इस राहु केतु एक्सिस के  विपरीत दिशा में हैं, तो जातक अपने  पैतृक स्थान से दूर कार्यरत रहेगा और जीवन में आगे बढ़ने  के लिए संघर्ष करता रहेगा।

३ ) एक ओर शनि मंगल ग्रह संयोजन और दूसरी तरफ शुक्र बृहस्पति संयोजन हो , तो जातक 49 वें वर्ष में महान कष्ट से ग्रस्त हो सकता है। 

४) अगर यह एक्सिस बुध और बृहस्पति के बीच पड़ता है, तो जातक का अक्सर अपने बच्चों के साथ मतभेद होगा। 

५ ) अगर यह एक्सिस चंद्रमा और शनि के बीच पड़ता है तो जातक की अपनी माँ  के साथ असहमति रहती है।

 ६) अगर यह एक्सिस सूर्य और शनि बीच के बीच पड़ता है तो जातक की अपने  पिता के साथ असहमति रहती है।

जरूर बताये अगर उपरोक्त बात आप की कुंडली मैं सही होती ह

कमल फन्डा

http://www.futurestudyonline.com/astro-details/110


Comments

Post

Latest Posts