Astrologer on phone in India -Best Astrologers

Astro davinder soni (Call charges included)

Expertise in : Astrology

Language : Hindi

Preferred Days are : all days

Timing (IST) : 10 am to 6 pm

Placed in : Kharar, Punjab, India

astrology most often consists of a system of horoscopes purporting to explain aspects of a person's personality and predict future events in their life based on the positions of the sun, moon, and other celestial objects at the time of their birth.

Read Reviews (5)    Futurestudy Rating

18 /Min

Offline

500 1100

Book Now

More Info

गजकेशरी योग (Gajkesari Yoga)nज्योतिष शास्त्र में कई शुभ और अशुभ योगों का वर्णन किया गया है| शुभ योगों में गजकेशरी योग को अत्यंत शुभ फलदायी योग के रूप में जाना जाता है|nगजकेशरी योग (Gajkesari Yoga) को असाधारण योग की श्रेणी में रखा गया है। यह योग जिस व्यक्ति की कुण्डली में उपस्थित होता है उस व्यक्ति को जीवन में कभी भी अभाव नहीं खटकता है। इस योग के साथ जन्म लेने वाले व्यक्ति की ओर धन, यश, कीर्ति स्वत: खींची चली आती है। जब कुण्डली में गुरू और चन्द्र पूर्ण कारक प्रभाव के साथ होते हैं तब यह योग बनता है। लग्न स्थान में कर्क, धनु, मीन, मेष या वृश्चिक हो तब यह कारक प्रभाव के साथ माना जाता है। हलांकि अकारक होने पर भी फलदायी माना जाता परंतु यह मध्यम दर्जे का होता है। चन्द्रमा से केन्द्र स्थान में 1, 4, 7, 10 बृहस्पति होने से गजकेशरी योग बनता है। इसके अलावा अगर चन्द्रमा के साथ बृहस्पति हो तब भी यह योग बनता है। कभी-कभी इन ग्रहों कि क्षमता कम होने पर जैसे ग्रह के बाल्या, मृता अथवा वृद्धावस्था इत्यादि में होने पर इस योग के प्रभाव को बढ़ाने हेतु ज्योतिषीय उपाय करने से इस राजयोग में वृद्धि होती है एवं व्यक्ति और अधिक लाभ प्राप्त कर पाता है |nज्योतिष एवं वास्तुशास्त्र सम्बंधित सभी समस्याओं का सुनिश्चित समाधानnज्योतिष एक महत्वपूर्ण एवं प्राचीन शास्त्र है इसलिए हमारे वैदिक सनातन संस्कृति के आधार- वेदों का इसे नेत्र माना गया है | जिस प्रकार नेत्र के आभाव में पूरे शरीर के होते हुए भी व्यक्ति बहुत सारे कार्यों को करने में असमर्थ होता है उसी प्रकार ज्योतिष शास्त्र के ज्ञान के बिना भविष्य में होने वाली सम्भावित अच्छी-बुरी घटनाओं इत्यादि का आकलन करना मुश्किल है| बाबा विश्वनाथ कि प्राचीनतम पवित्र पावन स्थली काशी जो जीवन दायिनी गंगा के तट पर स्थित है | ऐसा माना जाता है कि युगों-युगों से इसका विनाश नहीं हुआ | यह अविनाशी है एवं आज भी भारत कि प्राचीन परंपरा तथा धर्म का केंद्र है | "ज्ञानस्वरूपा काशीयं, पंचक्रोश परिमिता, तस्याः प्रदक्षिणं कृत्वा, नरः पापैः प्रमुच्यते |" अर्थात ज्ञान स्वरूपा काशी कि परिक्रमा मात्र से प्राणी मोक्ष का भागी होता है | काशी प्राचीनकाल से ही वैदिक विद्वानों की केंद्र के रूप में विख्यात रही है | हिंदी भाषियों के लिए इंटरनेट, फ़ोन एवं स्काइप के माध्यम से ज्योतिष से सम्बंधित सभी सेवाएं उपलब्ध कराते हैं | भारत के किसी भी प्रदेश अथवा अन्य देशों में रहने वाले भारतीय बिना वाराणसी आये अपने समस्त समस्याओं का ज्योतिषीय समाधान घर बैठे प्राप्त करते हैं |nnभारतीय ज्योतिष शास्त्रविदों का मानना है कि जातक कि कुंडली एवं समय-समय पर बदलने वाली ग्रहों कि दशाएं, जिनकी सही-सही पहचान से व्यक्ति भावी शुभ-अशुभ घटनाओं को सरलता पूर्वक जान सकता है | इस प्रकार के ज्ञान से व्यक्ति घटनाओं के घटित होने से पूर्व ही सचेत होकर, परिस्थितियों के अनुकूल चलकर एवं कुछ शास्त्र सम्मत ज्योतिषीय उपाय कर अपने लौकिक जीवन को सफल बना सकता है | मनुष्य में जो सोचने समझने कि योग्यता है उसके फल स्वरुप उसे अपने भविष्य कि चिंता अनादि काल से सताता रहा है | वर्तमान कि चिंताओं के अतिरिक्त, उसे इस बात कि बड़ी जिज्ञासा रही है कि भविष्य में उसका क्या होने वाला है ? अतः ज्योतिष विज्ञान ही मात्र एक ऐसा संसाधन है जिसे माध्यम बनाते हुए व्यक्ति भविष्य में आने वाले शुभाशुभ समय का पता कर कुंडली में ग्रहों के अनुसार दान, हवन, जप, पूजन, रत्न धारण इत्यादि कर ईश्वरीय शुभ फल का लाभ प्राप्त कर सकता है |nnजिन प्राकृतिक घटनाओं से मनुष्य का पहला-पहला साक्षात्कार हुआ उनके प्रेरक तत्वों के रूप में खगोलीय घटनाओं का अत्यंत प्रमुख योगदान रहा है ग्रहों, उपग्रहों, नक्षत्रों, निहारिकाओं की स्थितियां और ब्रह्माण्ड की विभिन्न घटनाएं निरंतर मनुष्यों के उत्सुकता का केंद्र रही है | अत्यंत प्राचीन काल से विशेषकर भारतियों ने इस दिशा में अत्यंत सराहनीय कार्य किया है और ऋग्वेद तक में काल गणना आदि के संकेत मिलते हैं | बाद में इसे ज्योतिष शास्त्र के रूप में अभिहित किया गया | आश्चर्यजनक रूप से आज भी जिन दो सर्वाधिक प्रमुख क्षेत्रों जैसे कंप्यूटर साइंस और अंतरिक्ष विज्ञान आदि में भारत दुनिया का नेतृत्व कर रहा है, वे दोनों ही काफी हद तक इसी काल-गणना और खगोलीय विज्ञान के ही विकसित रूप हैं |

Reviews

emil sorenSep 01, 2017

best problem solver

I have so many problems and panditji told me quick remedies and I was very happy about the result I give him 5 star you can contact him from above number he can solve any problem I went to so many astrologers but no use but pandit prasad is perfect in astrology he can solve any problems in life by giving him date of birth,\n\nTime of birth, and your name to the above given number kundali chart will be drawn by panditji and correct calculations will be done please contact him

Prem guptaAug 30, 2017

Studies

Studying was never easy . I always struggled .. but i have interest in my father\'s business..but guruji told me to choose studies first and it\'s my bad time . Now I think hd was right

Pavan agarwalAug 30, 2017

Vastu problems

Had too many problems with my office vastu . Too much loss .but he has suggested us few things now we are waiting

jitendra khaddeoApr 07, 2017

Good experience on call regarding carrer

I had very good experience with taking Pandit ji. He has given me very good facts about my home, my family members and given solution for performing well in carrer

Aman maanFeb 08, 2017

Devender soni great person

As well I book my call . I received your call and discuss with you about my life. Excellent prediction realy truth