t Global Consultation by Experts 24x7
Facebook Youtube Instagra Linkedin Twitter

कुंडली में ग्रहों का दिशाबल और उनका प्रभाव,

Deepika Maheshwary 20th Jul 2019

Share Article :

ग्रह अपनी दिशा स्वामित्व के अनुसार बलवान होता है।जो भी ग्रह दिग्बली होता है उसे जिस भी राशि में जितना बल मिलता है उससे ज्यादा बल उस ग्रह को मिलता है जिसे दिग्बली या दिशाबली ग्रह कहते है।इसके विपरीत जो ग्रह अपनी स्वामित्व की ठीक सामने वाली दिशा में होते है वह दिग्बल या दिशाबल हीन ग्रह होते हैदिग्बली ग्रह दिशा बल से बली होता है तो दिग्बल हीन ग्रह दिशा बल से कमजोर होता है।विशेष तोर पर दिग्बली ग्रह जब योगकारक हो तब दिग्बल से हीन होने पर ऐसे ग्रह का रत्न, धातु, जड़, मन्त्र जप करके उसको बलि बनाया जा सकता है।


Comments

Post
Top