Facebook Youtube Instagra Linkedin Twitter

जानिए मित्र और शत्रु ग्रह,सौम्य और क्रूर ग्रह और कुंडली पर पड़ने वाले उनके प्रभाव को

Share

Deepika Maheshwari 18th Aug 2019

ग्रहो को उनके नेचर के अनुसार दो भागो मै बांटा जाता है ।एक है अच्छे ग्रह यानी की देव ग्रह(Good Planets) और दुसरे है बुरे ग्रह यानी की दानव ग्रह(Bad Planets) अच्छे ग्रह यानी की देवग्रह  और बुरे ग्रह यानी की दानव ग्रह आपस में अति शत्रु है ।बुधदेव की इन दोनो प्रकर के ग्रहो के साथ अति मित्रता है,सिवाय चंद्रमा और मंगलदेव।चंद्रमा और मंगलदेव के साथ बुधदेव की अति शत्रुता है और गुरुदेव के साथ बुधदेव सम रहते है । सौम्य ग्रह – क्रूर ग्रह चंद्र             सूर्य बुध             मंगल गुरु             शनि शुक्र            राहुकेतु अपने-अपने तत्व के कारण ग्रह सौम्य और क्रूर बन गए लेकिन कुंडली में इनका प्रभाव कारक और मारक के अनुसार ही देखा जाता है।


Comments

Post
Top