Facebook Blogger Youtube

vastu artical

Dr Dilbagh Rai Bhatia 06th Sep 2019

घर के वास्तु को कैसे प्रभावित करता है पर्दो का रंग ? वास्तुशास्त्र के अनुसार अगर आप दिशाओं के अनुरूप पर्दो के रंग और डिजाइन का चयन करें,तो न केवल आपका घर खूबसूरत लगेगा, बल्कि सुकून के साथ कमरों में सकारात्मक ऊर्जा भी बनी रहेगी। यदि आपका घर पूर्वमुखी है और आप इस दिशा की खिड़कियों और दरवाजों पर परदे लगाने का मन बना रहे हैं तो घर में सौहार्दपूर्ण वातावरण के विकास एवं मान-सम्मान में वृद्धि के लिए अंडाकार डिजाइन या फूलों के पैटर्न,स्ट्रिप्स या इससे मिलते-जुलते पैटर्न के परदे लगाना शुभ होगा। सात्विक और सकारात्मक ऊर्जा प्रदान करने वाले रंग,जैसे-केसरिया,पीला,हरा,गुलाबी,हल्का नारंगी का इस्तेमाल समृद्धि को बढ़ाता है। जल की दिशा उत्तर में हल्के पीले,हरे,आसमानी और नीले रंगों के पर्दे लगाना बहुत शुभ माना गया है। इस दिशा में इन रंगों का प्रयोग करने से आपको धन आगमन के नए-नए अवसर प्राप्त हो सकते हैं। करियर में सफलता मिलेगी। अग्नि तत्व की दक्षिण-पूर्व दिशा के कमरे में त्रिकोण जिसका नुकीला भाग ऊपर हो या इससे मिलते-जुलते डिजाइन के परदे लगाए जा सकते हैं। इसी प्रकार दक्षिण दिशा के कमरों में खूबसूरत आयताकार पैटर्न के परदे लगाना आपके लिए लाभकारी सिद्ध होगा। इस दिशा में पर्दो के रंगों का चयन करते समय लाल,नारंगी,गुलाबी,बैंगनी रंगों का इस्तेमाल कर सकते हैं। पश्चिम दिशा में सुनहरे एवं सफेद रंगों के इस्तेमाल के साथ गोलाकार डिजाइन के परदे लगाना अच्छा है। सफेद और सुनहरे रंगों के साथ स्लेटी,पीला,भूरा,हल्का हरा जैसे रंगों का प्रयोग भी कर सकते हैं l


Comments

Post
Top