Facebook Youtube Instagra Linkedin Twitter

यह मंत्र औषधि के समान काम करते है।

Share

Astro Ajay Shastri 02nd Jun 2020

यह मंत्र औषधि के समान काम करते हैं- ऊँकार मंत्र आयु देने वाला तथा सभी रोगों को दूर कर आरोग्य देता है। जप करने से ज्ञान के साथ साथ आत्मा को बोध होता है। ॐ नमो नारायणाय-- यह मंत्र सभी मनोरथों को पूर्ण करता है। ॐ नमो भगवते वासुदेवाय- यह द्वादशाक्षर मन्त्र सब कुछ देने वाला है। ॐ हूं विष्णवे नम:--यह मंत्र औषध है, श्री सम्पन्नता व निरोगता देता है। कामी, कामप्रद:, काम:, कामपाल:, हरि:, आनन्द:, माधव:-- इनके जप से, कीर्तन से समस्तकामनाओं की पूर्ति होती है। राम:, परशुराम:, नृसिंह:, विष्णु:, त्रिविक्रम:- यह हरि के नाम युद्ध में, चुनावों में विजय दिलवाता है। श्रीपुरूषोतम:- का जप विद्या की प्राप्ति करवाता है। दामोदर: - बन्धन को दूर करता है, कोर्ट केस में विजय दिलवाता है।पुष्कराक्ष: - यह मंत्र नैत्र रोगों का निवारण करता है। हृषिकेश:, अच्युत:-- औषधि देते, वह लेते समय स्मरण करें। श्रीनृसिंह : जल से भय दूर करता है। गरुड़ध्वज: - विष का हरण करने वाला होता है अनाज घर में रखते समय तथा शयन करते समय अनन्त: व अच्युत: का उच्चारण करे। नारायण: का नाम दु:स्वप्न दिखने पर करे। विद्यार्थी हयग्रीव: का स्मरण करे। पुत्र प्राप्ति के लिए--जगत्सुति:का जप करे। बल की कामना के लिए-- श्रीबलभद्र: का स्मरण करे। सब की कामना अग्निदेव पूर्ण करे। ॐ हरि ॐ। प्रणाम। श्री राधे।
www.futurestudyonline.com
Astro Ajay Shastri


Comments

Post
Top