Facebook Blogger Youtube

Child Education

Anil Shrivastava 08th Feb 2019

जब हम किसी बच्चे की एजुकेशन का विश्लेषण करते हैं तो हम इस तरह देखते है कि एजुकेशन का प्राइमरी हाउस फोर्थ हाउस है इसके बाद नाइंथ हाउस हायर एजुकेशन का और 11 वा गेन का भाव है । जिन बच्चों की कुंडली में 4,11 5,11 अधिकाशं ग्रहों में पाए जाते हैं ये सभी बच्चे तीक्ष्ण बुद्धि के स्वामी होते हैं और एजुकेशन के क्षेत्र में बेहतरीन सफलताएं हासिल करते हैं अगर इनके साथ 6,11 का कॉन्बिनेशन भी हो तो प्रतियोगिताओं में भी बेहतर परिणाम हासिल कर उच्च शिक्षाओं के लिए चयनित होते हैं तथा ऐसे बच्चों का कैरियर बहुत शानदार होता है।

        इसके विपरीत जिन बच्चों की कुंडली के अधिकांश ग्रह 6 8 और 12 का कंबीनेशन दिखा रहे होते हैं वह बच्चे बेहतरीन सुविधाएं प्राप्त करने के पश्चात भी अपेक्षित परिणाम प्राप्त नहीं कर पाते हैं और असफल रह जाते हैं। मुझे एक केस याद आता है जहां मैंने एक बच्चे का चार्ट एनालाइज किया था । कुंडली के विश्लेषण के बाद दिखाई दिया उसे मंगल की महादशा में 4,11,व 6,11 का कॉन्बिनेशन प्राप्त था उस समय उसने स्कूल एजुकेशन मैं बेहतरीन परिणाम प्राप्त किए थे । मंगल के बाद जब राहु की महादशा प्रारंभ हुई तब वह IIT के लिए प्रिपेयर कर रहा था उस समय उसके पिता ने मुझसे उस बच्चे के कैरियर के संबंध में सलाह ली थी तब मैंने उन्हें आश्वस्त किया था कि आप निश्चिंत रहें इस बच्चे का चयन IIT में अवश्य होगा और वही हुआ बच्चे का चयन IIT दिल्ली में हुआ । नाड़ी एस्ट्रोलॉजी की यही विशेषता है जहां कोई किंतु-परंतु देखने की आवश्यकता नहीं है आवश्यकता सिर्फ इस बात की है कि वांछित कॉन्बिनेशन अगर कुंडली में है तो वांछित रिजल्ट अवश्य मिलेगा। Astrologer Anil


Comments

Post

Latest Posts