Facebook Blogger Youtube

रावण संहिता के अंतर्गत कुछ भाग्य सम्बंधित उपाय

12th Sep 2017

रावण संहिता के अंतर्गत मौजूद कुछ ऐसे उपाय बताने जा रहे हैं जो वाकई आपके भाग्य को चमकाने में मददगार साबित हो सकते हैं।

 

धन प्राप्ति

धन प्राप्ति के इच्छुक लोगों को सुबह जल्दी उठना चाहिए। अपने नित्य कर्मों से निवृत्त होकर, नदी या जलाशय किनारे जाकर स्नान करना चाहिए। स्नान करने के पश्चात किसी वट वृक्ष के नीचे किसी शांत स्थान पर चमड़े का आसन बिछाकर उस पर बैठना चाहिए

 

रुद्राक्ष की माला

इस आसन पर बैठकर रुद्राक्ष की माला से ॐ ह्रीं श्रीं क्लीं नम: ध्व: ध्व: स्वाहा मंत्र का जाप अधिक से अधिक बार तक करना चाहिए। 21 दिनों तक लगातार यही मंत्र जपते रहने के बाद जैसे ही आप यह मंत्र सिद्ध कर लेंगे आपके जीवन में धन प्राप्ति के योग बनने लगेंगे।

 

धन प्राप्ति में रुकावट

धन प्राप्ति में बार-बार रुकावटों का सामना कर रहे लोगों को लगातार 40 दिनों तक ॐ सरस्वती ईश्वरी भगवती माता क्रां क्लीं श्रीं श्रीं मम धनं देहि फट् स्वाहा मंत्र का जाप करना चाहिए।

 

महालक्ष्मी

यह महालक्ष्मी को प्रसन्न करने के लिए तांत्रिक उपाय है। इस मंत्र का नियमित जाप करने पर, मात्र कुछ ही दिनों के भीतर ही धन आगमन से जुड़ी समस्या का निदान हो जाएगा। आपको नियमित तौर पर इस मंत्र की एक माला अवश्य करनी चाहिए

 

मध्यरात्रि

किसी भी शुभ अवसर जैसे अक्षय तृतीया, दीपावली, होली आदि की मध्यरात्रि में यह उपाय विशेष फलदायी रहेगा। कुमकुम के द्वारा थाली पर ॐ ह्रीं श्रीं क्लीं महालक्ष्मी, महासरस्वती ममगृहे आगच्छ-आगच्छ ह्रीं नम: लिखें।

 

कमल गट्टे की माला

लिखने के साथ-साथ रुद्राक्ष या कमल गट्टे की माला से इस मंत्र का जाप भी करते रहें। दीपावली की रात करने पर यह मंत्र विशेष फल प्रदान करता है। नियमित तौर पर 108 बार तो आपको इस मंत्र का जाप करना ही चाहिए, इसके अलावा आपको अपनी श्रद्धानुसार मंत्र जाप को बढ़ा देना चाहिए।

 

दीपावली की रात

यदि आप हर ओर से धन कमाना चाहते हैं तो आपको दीपावली की रात यह उपाय अवश्य करना चाहिए। इस उपाय के अनुसार आपको दीपावली की रात पूरे विधि-विधान से महालक्ष्मी की आराधना करनी चाहिए।

 

सुबह उठने के बाद

उसके अगले दिन सुबह उठने के बाद और पलंग से उतरने से पहले आपको 108 बार ॐ नमो भगवती पद्म पदमावी ऊँ ह्रीं ऊँ ऊँ पूर्वाय दक्षिणाय उत्तराय आष पूरय सर्वजन वश्य कुरु कुरु स्वाहा मंत्र का जाप करना चाहिए।

 

 

मंत्र जाप

मंत्र जाप पूरा करने के बाद दसों दिशाओं में दस-दस बार फूंक मारें। इस उपाय को पूरी तन्मयता के साथ करने वाले जातक के जीवन में धन की वर्षा होने लगती है।


Comments

Post
Top