Facebook Blogger Youtube

आज के कुछ महत्वपूर्ण उपाय।।

AACHARYA YATIN S UPADHYAY 04th Feb 2017

ै.जहा बड़े बड़े उपाय कुछ नहीं कर पाते है वही लघु प्रयोग तीव्र प्रभाव दिखा जाते है.आपके लिए उन्ही लघु प्रयोगो में से कुछ यहाँ दिए जा रहे है पूर्णविश्वास है कि आपको लाभ होगा।१. क्रोध शांति हेतुजिन्हे बहुत अधिक क्रोध आता हो वे नित्य रात्रि में सोते समय एक ताम्बे के लोटे में जल भर दे और उसमे एक चाँदी का सिक्का डाल दे.प्रातः मुह आदि धोकर इस जल का सेवन करे.धीरे धीरे क्रोध में कमी आ जायेगी और आपका स्वभावसोम्य होने लगेगा।२. नकारत्मक ऊर्जा को दूर करने हेतुयदि आप सदा मानसिक तनाव में रहते है.नित्य बुरे स्वप्न आते है.छोटी छोटी बाते आपको अधिक विचलित कर देती है.अकारण भय लगता रहता है तो,रात्रि में सोते समय अपने तकिये के निचे एक छोटा सा फिटकरी का टुकड़ा रख ले.और सुबह उठकर उसे अपने सर से तीन बार घुमाकर घर के बहार फेक दे.सतत कुछ दिनों तक करे अवश्य लाभ होगा।३.गृह कलह निवारण एवं शुद्धि हेतुयदि निरंतर घर में कलह का वातावरण बना रहता हो,अशांति बनी रहती हो.व्यर्थ का तनाव बना रहता हो तो.थोड़ी सी गूगल लेकर" ॐ ह्रीं मंगलादुर्गा ह्रीं ॐ "मंत्र का १०८ बार जाप कर गूगल को अभी मंत्रित कर दे और उसे कंडे पर जलाकर पुरे घर में घुमा दे.ये सम्भव न हो तो गूगल ५ अगरबत्ती पर भी येप्रयोग किया जा सकता है.घर में शांति का वातावरण बनने लगेगा।४.स्मरण शक्ति हेतुयदि आपकी स्मरण शक्ति तीव्र नहीं है,तो किसी भी सोमवार को शिवलिंग पर शहद से अभिषेक करे.अभिषेक करते समय ॐ नमः शिवाय का जाप करते जायेऔर एक एकचम्मच शहद शिवलिंग पर अर्पित करते जाये इस प्रकार १०८ बार करे.फिर इस शहद को किसी डिब्बी में सुरक्षित रख ले.अब नित्य थोडा शहद लेकर १०८ बार" ऐं "बीज मंत्र का जाप करे और शहद अभी मंत्रित कर ले.इस शहद को स्वयं ग्रहण कर ले.तथा थोडा सा शहद मस्तक पर लगाये।धीरे धीरे आप स्वयं अनुभव करेंगे कि आपकी स्मरण शक्ति में सुधार हो रहा है.५. अनिद्रा दूर करने हेतुयदि आपको अनिद्रा कि समस्या है तो रात्रि में सोने से पूर्व" ॐ क्लीं शांता देवी क्लीं नमः "का माँ दुर्गा का ध्यान करते हुए १०८ बार जाप करे और सो जाये। धीरे धीरे आपकी ये समस्या का भी अंत हो जायेगा।६. धन वृद्धि हेतुयदि धन में वृद्धि ना हो रही हो,साथ ही व्यर्थ का व्यय बढ़ता जा रहा हो तो शुक्रवार को १६ कमलगट्टे को शुद्ध घृत में मिलाकर अग्नि में" ॐ श्रीं स्थिर लक्ष्मी श्रीं वरदायै नमः "मंत्र से आहुति प्रदान करे.कुछ शुक्रवार करे और परिणाम स्वयं देखे।इसी मंत्र के मध्यम से अघोरी अपने जीवन में लक्ष्मी को बांध देते है.रस क्षेत्र में भी इस मंत्र का अत्यंत महत्व है,जिसमे कुछ विधि या साधना करके लक्ष्मी कोसदा सदा के लिए घर मेंस्थिर किया जा सकता ह.

यतिन एस उपाध्याय


Comments

Post

Latest Posts

Top