Facebook Youtube Instagra Linkedin Twitter

भगवान को कैसे प्रसन्न करें।

Share

Astro Ajay Shastri 02nd Jun 2020

जानने योग्य बातें--- तांबा मंगलस्वरूप, पवित्र एवं भगवान को बहुत प्रिय है। तांबे के पात्र में जो वस्तु रखकर भगवान को अर्पण की जाती है, उससे भगवान को बड़ी प्रसन्नता होती है।--वराहपुराण। चाँदी पितरों को तो परम प्रिय है, पर देव् कार्य मे इसे अशुभ माना जाता है। इसलिए देव् कार्य में चाँदी दूर रखनी चाहिए।-- मत्स्यपुराण। दीपक को स्पर्श करने पर हाथ धोना चाहिए, अन्यथा दोष लगता है।-- वराह पुराण। कार्तवीर्य को दीप प्रिय है, सूर्य को नमस्कार प्रिय है, विष्णु को स्तुति प्रिय है, गणेश को तर्पण प्रिय है, दुर्गा को अर्चना प्रिय है, और शिव को अभिषेक प्रिय है। अतः इन देवताओं को प्रसन्न करने के लिये इनके प्रिय कार्य ही करने चाहिए।--मन्त्रमहोदधि, नारद पुराण। ॐ हरि ॐ। प्रणाम। श्री राधे।www.futurestudyonlime.com Astro Ajay Shastri


Comments

Post
Top